Post Office Scheme

Post Office Scheme : पति-पत्नी को मिलेंगे हर महीने 27,000 हजार रुपये, 2 दिन में खाते में जमा होंगे

Post Office Scheme : सुनिश्चित और सुरक्षित निवेश के लिए पोस्ट ऑफिस एक अच्छा विकल्प है। डाकघर आम नागरिकों के लिए कई छोटी बचत योजनाएं चलाता है। इस लेख में हम देखेंगे कि पति-पत्नी संयुक्त खाता खोलकर हर महीने एक निश्चित रकम कैसे प्राप्त कर सकते हैं। निवेशक पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना (POMIS) में निवेश कर सकते हैं। यह स्कीम सिंगल या ज्वाइंट दोनों तरह से खोली जा सकती है। केंद्र सरकार ने 1 अप्रैल 2023 से इस योजना की ब्याज दर बढ़ा दी है। इसी तरह निवेश की सीमा भी बढ़ा दी गई है।

इस योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए

यहां क्लिक करें

Post Office Monthly Income Scheme

आप जमा तिथि के एक वर्ष बाद अपने खाते से पैसा निकाल सकते हैं। यदि एक से तीन साल के भीतर निकासी की जाती है, तो आपसे दो प्रतिशत शुल्क लिया जाता है। और फीस काटने के बाद बाकी रकम वापस कर दी जाती है। यदि निवेश पोर्टल द्वारा तीन साल के बाद समय से पहले खाता बंद कर दिया जाता है, तो जो भी राशि जमा की जाती है, उसमें से एक प्रतिशत काट लिया जाता है। इस योजना में दो या तीन व्यक्ति यह संयुक्त खाता खोल सकते हैं। इसमें ज्वाइंट अकाउंट को सिंगल अकाउंट में बदला जा सकता है। साथ ही एक खाते को संयुक्त खाते में भी बदला जा सकता है।

अब आधार कार्ड से सिर्फ 5 मिनट में पा सकते हैं 2 लाख रुपये का पर्सनल लोन,

यहां से करें ऑनलाइन अप्लाई

7.4% की दर से मिलता है ब्याज

Post Office की इस मंथली इनकम स्कीम में रिटर्न भी शानदार मिलता है। 1 जुलाई 2023 से इसमें निवेश पर मिलने वाला ब्याज 7.4 फीसदी कर दिया गया है। इस स्कीम की सबसे खास बात यही है कि इसमें निवेश करने पर आपकी हर महीने इनकम की टेंशन खत्म हो जाती है। इस सरकारी स्कीम का मैच्योरिटी पीरियड 5 साल का है और अकाउंट खुलने के एक साल बाद तक इसमें से पैसों की निकासी नहीं की जा सकती है। इसमें आप महज 1000 रुपये से अकाउंट खुलवा सकते हैं।

9 लाख रुपये तक कर सकते हैं इन्वेस्ट

पोस्ट ऑफिस मंथली सेविंग स्कीम (POMIS) के तहत निवेश करने वाले अकाउंटहोल्डर्स के लिए सरकार ने निवेश की लिमिट में भी इजाफा किया है. पहले इंडीविजुअल खाताधारक के लिए निवेश की सीमा 4.5 लाख रुपये थी, जिसे बढ़ाकर 9 लाख रुपये कर दिया गया है। वहीं अगर ज्वाइंट अकाउंट की बात करें तो इसके लिए मैक्सिमम लिमिट को पहले की 9 लाख से बढ़ाते हुए 15 लाख रुपये कर दिया है. निवेश की लिमिट में ये बढ़ोतरी 1 अप्रैल 2023 से प्रभावी है. एक बार निवेश के बाद आप इस स्कीम के तहत हर महीने निश्चित आय की व्यवस्था कर सकते हैं।

ई श्रम कार्ड की क़िस्त जारी..! खाते में फिर से ₹3,000 आना शुरू,

यहाँ से पेमेंट स्टेटस चेक करें

ये है महीने की इनकम का कैलकुलेशन

Post Office की इस स्कीम में एकमुश्त निवेश से हर महीने आय की गारंटी दी जाती है और इसमें हर महीने होने वाली इनकम का कैलकुलेशन करें, तो अगर आप इसमें पांच साल के लिए 5 लाख रुपये का निवेश करते हैं, तो आपको 7.4 फीसदी की दर से मिलने वाले ब्याज के हिसाब से हर महीने 3,084 रुपयेकी इनकम होगी। वहीं अगर इंडिविजुअल खाताधारक की मैक्सिमम लिमिट यानी 9 लाख रुपये के हिसाब से देखें तो हर महीने होने वाली इनकम 5,550 रुपये होगी। आप ब्याज से होने वाली इस आय को महीने के अलावा तिमाही, छमाही या फिर सालाना आधार पर भी ले सकते हैं।

9 करोड़ किसानों के लिए खुशखबरी, खाते में आएंगे 17वीं किस्त के 4000 रूपए,

पति-पत्नी दोनों को मिलेगा इस योजना का लाभ!

एकमुश्त निवेश पर अच्छा रिटर्न

इस योजना के तहत एक निवेशक एक डाकघर योजना खाते में अधिकतम नौ लाख रुपये का निवेश कर सकता है। सरकार की ओर से ज्वाइंट अकाउंट की सीमा बढ़ा दी गई है। अब यह सीमा बढ़ाकर 15 लाख रुपये कर दी गई है। परिपक्वता के बाद निवेशक निवेश की गई राशि निकाल सकता है। या फिर इस योजना की अवधि पांच साल तक बढ़ाई जा सकती है।

2 thoughts on “Post Office Scheme : पति-पत्नी को मिलेंगे हर महीने 27,000 हजार रुपये, 2 दिन में खाते में जमा होंगे”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *